जवान लोग

"यह पूरे जीवन का सौभाग्‍य है कि आप वही बनते हैं जो आप हैं।"
कार्ल जुंग

हम ऐसे योग अभ्‍यास करने वाले लोग हैं जो अपने विश्‍व के प्रभावशाली परिवर्तन में रुचि रखते हैं। विश्‍व के 50 देशों में हम 16 से 30 वर्ष के ऐसे युवा हैं जो नेटवर्क के माध्‍यम से एक दूसरे से जुड़े हुए हैं, जिसे ब्रह्माकुमारीज के अन्‍तर्राष्‍ट्रीय युवा फोरम के रूप में जाना जाता है।

हम मानते हैं कि जीने का नया तरीका अन्‍तत: मनुष्‍यात्‍मओं के उत्‍थान और परिवर्तन पर निर्भर है। हम हर धर्म, जाति और संस्‍कृति के हमारे युवा सा‍थियों को प्रोत्‍साहित करना चाहते हैं कि वे अपने आपसे गहराई से जुड़कर अपने अन्‍दर और बाहरी परिवेश को पुन: निर्मित करने की चुनौती स्‍वीकार करें।

विकास के लिए हम अपने साथियों की सहायता करते हैं

  • अपनी आन्‍तरिक शान्ति और शक्ति के प्रति जागृति
  • जीने के लिए नैतिक दिशा सूचक
  • अपने अन्‍तर्निहित शक्ति और कौशल को प्रकट करने के लिए व्‍यवहारिक आध्‍यात्मिक कौशल एवं साधन खोजने में।

हम इस क्षेत्र की संस्‍थाओं के साथ काम करते हैं। गैर सरकारी युवा संगठन, सरकारी इकाई, सामुदायिक और धार्मिक संगठन जो अपनी आध्‍यात्मिक कुशलता और गुणों के साथ युवा लोगों के साथ काम करना चाहते हैं।

आईये हमारे साथ इस सफर पर जिसमें हम आपके अन्‍दर छिपे हुए बहुमूल्‍य हिस्‍से को उजागर करें, उसका अनुभव करें और आनन्‍द लें। जो हिस्‍सा जब तक उस तक पहुंचा ना जाये तब तक छिपा रहता है। इस सफर में आप अपने भविष्‍य के लिए एक ऐसा रास्‍ता बना देंगे जिस पर चलकर आप खुशी और सफलता के शिखर तक पहुंच पायेंगे।

युवा नेता

चूज, चेन्‍ज एण्‍ड बिकम (चुनिये, बदलिए और बन जाइए)

अन्‍दर से नेतृत्‍व करने को चुनिये और मूल्‍यों को अपना आधार बनाना चुनिये
अपने दृष्टिकोण और व्‍यवहार को बदलिए – अहंकार से मानवता – अपने कार्य और सम्‍बन्‍ध में।
सकारात्‍मक कर्म को बनाये रखने तथा प्रेरित करने के लिए स्थिरता और लचीलापन का उदाहरण बनें।

इसे बेरुखी भरी दुनिया में ऐसी कौनसी पद्धति अपनायें जो कर्म के लिए प्रेरित और प्रोत्‍साहित करे? चुनिये, बदलिए और बन जाइए, यह हमारा अन्‍तर्राष्‍ट्रीय कार्यक्रम है जो युवा नेतृत्‍व विकास के लिए बनाया गया है। कार्यक्रम का लक्ष्‍य है, युवा नेताओं को अपनी आन्‍तरिक क्षमता का विकास करते हुए मूल्‍य आधारित निर्णय और विकल्‍प चुनें। जिससे कि समाज और विश्‍व के प्रति उनके कर्म सकारात्‍मक, सृजनात्‍मक हो।

यह एक संगठित अनुभव है जिसे `लर्निंग लेबोरट्री' (शिक्षा प्रयोगशाला) कहते हैं। जिसमें शाश्‍वत शिक्षा के वातावरण में व्‍यक्तिगत चिन्‍तन, रचनात्‍मक अभियक्ति और सामूहिक नेतृत्‍व का अनुभव कराया जाता है। व्‍यक्तिगत, सामाजिक और वैश्विक स्‍तर पर सीखने की क्षमता ही विकास का मूल है।

राष्‍ट्रीय स्‍तर पर कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है और हरेक समूह और क्षेत्र के लिए आवश्‍यकता अनुसार नियोजन किया जाता है।

 

विश्‍व भर में सीसीबी कार्यक्रमों का आयोजन

दक्षिण अफ्रीका

चुनिए, बदलिए और बनिये, डनिंग रिट्रीट सेन्‍टर, मेरीवेल

यह अनेकानेक शुभचिन्‍तकों का मिलकर किया हुआ एक सामूहिक प्रयास है, जो युवा विकास की प्रक्रिया को प्रोत्‍साहित करने के लिए एक समान जुनून रखते हैं। इस कार्यक्रम का आयोजन पीएमबी, प्राइमरी हेल्‍थ केयर डिवीजन के डिपार्टमेन्‍ट आफ हेल्‍थ के साथ मिलकर ब्रह्माकुमारीज के द्वारा किया गया।

यह युवा नेता अपने जीवन में सकारात्‍मक परिवर्तन लाने के लिए प्रति प्रतिबद्ध थे और अपने समाज, और समुदाय में भी सकारात्‍मक परिवर्तन लाने हेतु सक्रिय थे।

सहभागियों को गहरी आन्‍तरिक यात्रा पर ले जाया गया जिसमें उन्‍हें यह अवसर प्राप्‍त हुआ कि :

  • अपनी अनोखी शक्ति की खोज
  • आत्‍म सम्‍मान का विकास
  • आन्‍तरिक प्रज्ञा शक्ति से सही चुनाव करना
  • अपने चुनावों को वास्‍तविक सत्‍यता में उतारने के लिए बदलावों को पहचानना

यूके

अपने आन्‍तरिक शक्तियों का जागरण कर अपने भीतर के नायक को उजागर करना, ग्‍लोबल रिट्रीट सेन्‍टर आक्‍सफोर्ड शियर Watch our video and visit our blogspot.

यूएसए

ब्रेव हार्ट -  बिना शर्त प्‍यार करने की हिम्‍मत, पीस विलेज, न्‍यूयॉर्क स्‍टेट

ब्रेव हार्ट संकल्‍पना के लिए शेर के चित्र को प्रतीक के रूप में चुना गया Watch Video .

सम्‍मेलन के दौरान प्रतिभागियों का योग ध्‍यान और आत्‍म जागृति में रुझान देखकर हृदय गदगद हुआ। उनके अनेकानेक प्रश्‍न पूछने से महसूस हुआ कि वो आध्‍यात्मिकता को गहराई से जानना चाहते हैं।

चिन्‍तन

मैं अपने आपमें क्‍या बदलाव लाने का विकल्‍प चुनता हूँ?

इस तरह का परिवर्तन मुझमें लाने के लिए सकारात्‍मक गुणों की जानकारी हो। आगे आने वाले 21 दिनों में यह सकारात्‍मक गुण अपने जीवन में अधिकाधिक लाने के लिए और इनका अनुभव हर रात लिखने के लिए एकाग्र हो जायें। अपने जीवन के छोटे से छोटे सकारात्‍मक परिवर्तन को सफलता समझें।